कोरोना न्यूज़ – Dexamethasone को मरीजों के उपचार संबंधी प्रोटोकॉल में शामिल कर लिया है।

0
129

Dexamethasone : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सस्ते एवं व्यापक रूप से प्रचलित दवा डेक्सामेथासोन को कोविड-19 के मध्यम से गंभीर रूप से संक्रमित मरीजों के उपचार संबंधी प्रोटोकॉल में शामिल कर लिया है। मंत्रालय ने बताया कि अपडेट किए गए प्रोटोकॉल में कोविड-19 के मध्यम से गंभीर के मामलों के इलाज के लिए मेथिलप्रेडनिसोलोन के विकल्प के तौर पर डेक्सामेथासोन के इस्तेमाल की सलाह दी गई है। यह बदलाव ताजा उपलब्ध साक्ष्यों पर विचार करने एवं विशेषज्ञों के साथ विचार-विमर्श करने के बाद किया गया। भारत में यह संशोधित प्रोटोकॉल ऐसे समय में जारी किया गया है जब देश में कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में सर्वाधिक 18,552 नए मामले सामने के बाद शनिवार को संक्रमित लोगों की कुल संख्या पांच लाख से अधिक हो गई है।
कोविड-19 के लिए संशोधित प्रोटोकॉल के अनुसार फेफड़ों संबंधी संक्रमण के लिए पहले से ही इस्तेमाल किए जा रहे डेक्सामेथासोन का प्रयोग मेथिलप्रेडनिसोलोन के विकल्प के तौर पर किया जा सकता है। इससे पहले 13 जून को स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 के इलाज के लिए आपातकाल में एंटीवायरल दवा रेमडेसिविर, प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए इस्तेमाल होने वाली दवा टोसीलीजुमैब के इस्तेमाल और प्लाज्मा से उपचार की अनुमति दे दी थी। उसने बीमारी की शुरुआत में मलेरिया रोधक दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन (एचसीक्यू) का इस्तेमाल करने और गंभीर मामलों में इससे बचने की भी सलाह दी थी।
ऐसी होगी यह दवा
–मध्यम रूप से संक्रमित मरीजों को विशेषतः भर्ती किए जाने के 48 घंटे के भीतर या ऑक्सीजन की आवश्यकता बढ़ने पर उपचार के लिए तीन दिन तक 0.5 से 1 मिलीग्राम/किग्रा मेथिलप्रेडनिसोलोन या 0.1 से 0.2 मिलीग्राम/किग्रा डेक्सामेथासोन दिए जाने पर विचार करने की सलाह दी गई है। दवा के इस्तेमाल की अवधि की नैदानिक प्रतिक्रिया के अनुसार समीक्षा करने को कहा गया है।
–जिन मरीजों को सांस लेने में दिक्कत है और जिन्हें वेंटिलेटशन की आवश्यकता है, उन्हें पांच से सात दिन तक दो खुराकों में बांटकर एक से दो मिलीग्राम/किग्रा प्रति दिन मेथिलप्रेडनिसोलोन या 0.2 से 0.4 मिलीग्राम/किग्रा प्रति दिन डेक्सामेथासोन देने पर विचार किया जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here