by
satish mishra
अधिक से अधिक सेंपलिंग एवं कोरोना कर्फ्यू के पालन करवाने के दिए निर्देश
सिवनी 13 अप्रैल 21/जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सिवनी जिले के कोविड प्रभारी एवं मध्यप्रदेश शासन के राज्यमंत्री आयुष (स्वतंत्र प्रभार) एवं जल संसाधन विभाग राम किशोर “नानो” कावरे द्वारा मंगलवार 13 अप्रैल को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सभी विकास खंडों के अनुविभागीय अधिकारियों, तहसीलदारों एसडीओपी पुलिस, बीएमओ तथा संबंधित अधिकारियों की बैठक लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।बैठक में विधायक सिवनी दिनेश राय, विधायक केवलारी राकेश पाल, जिला भाजपा अध्यक्ष आलोक दुबे, कलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग, पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सिवनी पार्थ जायसवाल, अपर कलेक्टर सुश्री सुनीता खंडाइत, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ के.सी. मेशराम सहित अन्य संबंधित चिकित्सकों की उपस्थिति रही।
राज्यमंत्री श्री कावरे द्वारा सभी अधिकारियों को रणनीति बनाकर एवं आपसी समन्वय से कोविड-19 की रोकथाम के लिए युद्धस्तर पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण पर प्रभावी रोकथाम के लिए हमे संक्रमण की चैन तोड़ने की दिशा में कार्य करना होगा। जिसके लिए अधिक से अधिक सेम्पलिंग के साथ ही कोरोना कर्फ़्यू का पालन करवाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि हम सभी को मरीजों के साथ सकारात्मक व्यवहार करते हुए उसके मन से कोरोना का भय दूर कर सकारात्मक मौहल में उपचार देना होगा। राज्यमंत्री श्री कावरे ने सभी उप स्वास्थ्य केंद्रों में बेहतर चिकित्सा व्यवस्था उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए, ताकि मरीजों को जिला चिकित्सालय सिवनी न आना पड़े साथ ही सभी बीएमओ को अपने-अपने उप स्वास्थ्य केंद्रों में अतिरिक्त बेड, जरूरी दवाइयां की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने ग्राम स्तर में भी कोरोना संक्रमित मरीजों को दवाइयों की किट बनाकर एएनएम, आशा कार्यकर्ता एवं सहायिका के माध्यम से वितरित करने के निर्देश दिए। राज्यमंत्री श्री कावरे ने पुलिस अमले को लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराने की बात कही अनावश्यक घूमते पाए जाने वालों पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने बाहर से आने वाले मजदूरों का बॉर्डर पर ही स्वास्थ्य परीक्षण कर उनको सुरक्षित उनके गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था कराने के निर्देश भी संबंधित अधिकारियों को को दिए साथ फीवर क्लीनिक में आने वाले सभी मरीजों की लिस्टिंग करने तथा सतत मॉनिटरिंग करने के भी निर्देश दिए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here