देश की श्वास बना स्टील सेक्टर

कोविद 19 के इस यू के वेरिएंट के बेकाबू संक्रमण से देश के तमाम हिस्सो में त्रासदी ला दी है , कोरोना का यह रूप पिछली लहर की तुलना में न सिर्फ अधिक शक्तिशाली है बल्कि गुणात्मक रूप से प्राणघाती भी साबित हो रहा है , ऐसे में देश आक्सीजन संकट से गुजर रहा है और तत्कालीन रूप से स्वास्थ्य क्षेत्रक आक्सीजन प्लांट पर्याप्त आक्सीजन आपूर्ति में विफल रहे है ऐसे में देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आह्वाहन पर भारत के स्टील मंत्रालय ने अपने उपक्रमों को देश के तमाम औद्योगिक आक्सीजन प्लांट स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए खोल दिए है
केंद्रीय मंत्री द्वय धर्मेंद्र प्रधान एवं फग्गनसिंह कुलस्ते रोजाना इस संदर्भ में मॉनिटरिंग कर स्टील मंत्रालय के भिलाई , बोकारो , राउरकेला इत्यादि निजी एवम सार्वजनिक इस्पात संयंत्रों से आवश्यक क्षेत्रों में आक्सीजन सप्लाई प्रदान कर रहे है , सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के स्टील प्लांट से देश में ऑक्सीजन की कमी दूर हो रही है. इन प्लांटों से 25 अप्रैल तक विभिन्न राज्यों को 3131.84 मीट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति हुई. 24 अप्रैल को 2894 मीट्रिक टन आक्सीजन की आपूर्ति की गई थी. एक हफ्ते पहले औसतन 1500 से 1700 मीट्रिक टन प्रति दिन भेजा जा रहा है ,
ऑक्सीजन ट्रांसपोर्ट में तेजी लाने के लिए स्टील कंपनियों को एक निश्चित संख्या में नाइट्रोजन टैंकरों को कंवर्ट का आदेश दिया है. इससे ऑक्सीजन ट्रांसपोर्ट क्षमता को बढ़ाने में मदद मिलेगी और ऑक्सीजन की सप्लाई जल्दी की जा सकेगी.
केंद्रीय स्टील राज्य मंत्री श्री फग्गनसिंह कुलस्ते ने मध्यप्रदेश को पर्याप्त आक्सीजन उपलब्ध कराने के निर्देशो के पालन में भिलाई स्टील प्लांट शत प्रतिशत खरा उतर रहा है , विशेष रुप से छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती जिले मण्डला , डिंडोरी , जबलपुर , सिवनी , बालाघाट , अनूपपुर , शहडोल , जिलों में आक्सीजन की उपलब्धता निर्धारित लक्ष्यों के करीब पहुंच रही है , इसके अतिरिक्त उनके संसदीय क्षेत्र मण्डला में 40 लाख की सांसद विकास निधि के अतिरिक्त रेमेडीसीवीर इंजेक्शन की आपूर्ति के लिए मोयल लिमिटेड से दस लाख रुपये की राशि एवं आक्सीजन कॉन्संट्रेटर व अन्य सामग्री जारी की है , मण्डला सिवनी और डिंडोरी के जनप्रतिनिधियों की मांग के आधार पर मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री श्री प्रभुराम चौधरी से बात करके कस्बाई क्षेत्रों में कोविद केयर सेंटर , अतिरिक्त रेमेडीसीवीर इंजेक्शन , अतिरिक्त स्वास्थ्य कर्मचारियों की भर्ती एवम अन्य उपचार व्यवस्था के लिए प्रशासनिक स्तर पर हो रही कठिनाइयो को दूर करने का प्रयास कर रहे है । गत दिवस हुई वर्चुअल बैठक में क्षेत्र के सांसद विधायकों ,भाजपा जिलाध्यक्षों एवम जन प्रतिनिधियो ने केंद्रीय मंत्री श्री फग्गनसिंह कुलस्ते के समक्ष विभिन्न मांगों को रखा है जिस पर विचार करते हुए आवश्यक कार्यवाही के लिए प्रयासरत है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here