दो महीने बाद दर्ज हुई कुरई थाने में पेंच से चोरी गए कैमरों की रिपोर्ट

0
79

सिवनी । पेंच नेशनल पार्क के बफर क्षेत्र में वन्यजीवों की गणना व निगरानी के लिए लगाए गए ऑटोमेटिक मोशन सेंसर कैमरे चोरी होने के मामले में दो महीने बाद पुलिस ने अज्ञात चोरों पर मामला दर्ज किया है। बफर क्षेत्र में साल भर कैमरे ट्रेपिंग के लिए जंगल में लगाए जाते हैं। अप्रैल व मई महीने में अज्ञात चोर पेड़ों में लगाए गए हाईरेजुलेशन के
सिवनी । पेंच नेशनल पार्क के बफर क्षेत्र में वन्यजीवों की गणना व निगरानी के लिए लगाए गए ऑटोमेटिक मोशन सेंसर कैमरे चोरी होने के मामले में दो महीने बाद पुलिस ने अज्ञात चोरों पर मामला दर्ज किया है। बफर क्षेत्र में साल भर कैमरे ट्रेपिंग के लिए जंगल में लगाए जाते हैं। अप्रैल व मई महीने में अज्ञात चोर पेड़ों में लगाए गए हाईरेजुलेशन के ऑटोमेटिक कैमरों को चुरा ले गए थे।
पेंच का वन अमला अज्ञात चोरों की छानबीन कर रहा है, लेकिन अभी तक जंगल में चोरी की वारदात को अंजाम देने वालों का सुराग नहीं मिला है। इस मामले में संबंधित वनपरिक्षेत्र के अमले ने पुलिस को आवेदन दिया था, लेकिन अभी तक मामले में एफआईआर दर्ज नहीं की गई थी। शनिवार को अरी बफर क्षेत्र के डिप्टी रेंजर विनेश वर्मा (55) ने कुरई पुलिस थाना पहुंचकर चोरी गए कैमरों की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने धारा 379 भादंवि के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरु कर दी है।
लगाए थे 162 कैमरे, 8 गए चोरी-पेंच के कोर व बफर एरिया में जंगल की निगरानी व वन्यजीवों की गणना के लिए हर साल ऑटोमेटिक कैमरे लगाए जाते हैं। इस साल करीब 162 कैमरे बफर व कोर क्षेत्र में लगाए गए थे। समय समय पर इन कैमरों का रखरखाव करने वन अमला मौके पर जांच के लिए पहुंचता है।
30 अप्रैल को कुरई बीट के सावंगी कक्ष क्रमांक 249 से दो ऑटोमेटिक कैमरे चोरी हुए थे। इसके अलावा मई महीने में रूखड़ से दो और खवासा से चार कैमरे चोरी हो चुके हैं। हाईरेजुलेशन के ऑटोमेटिक कैमरों में जंगल की हर गतिवधि कैद हो जाती है। सेंसर के सामने से निकलते ही कैमरे वन्यजीवों व शिकारियों की फोटो कैप्चर कर लेते हैं।
हो रही गिरफ्तारी की कोशिशें-पेंच प्रबंधन का दावा है कि जंगल से कैमरे चुराने वाले अज्ञात आरोपितों की तलाश की जा रही है।
अनुमान लगाया जा रहा है कि जंगल में लकड़ी चुराने अथवा शिकार की नीयत से जाने वाले अज्ञात आरोपितों ने सबूत मिटाने के लिए कैमरे चुराए हैं। इससे पहले भी पार्क के बफर क्षेत्र में लगे कैमरे चोरी हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here