by
satish mishra
कोरोना पर जीत विश्वास, प्रेम और समझाइश से संभव : मुख्यमंत्री श्री चौहान
सिवनी 6 अप्रैल 21/ मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना के उपचार में कोई भी निजी अस्पताल शासन द्वारा निर्धारित दरों से अधिक राशि नहीं वसूलें। निर्धारित दरों से अधिक चार्ज करने पर निजी अस्पतालों पर कार्रवाई की जाएगी। आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए भी तय दर से अधिक राशि न वसूली जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए बड़े शहरों के साथ तहसील और विकासखण्ड स्तर पर भी पर्याप्त बेड की व्यवस्था की जाए। शासकीय के साथ-साथ निजी अस्पतालों का भी सहयोग लिया जाए।
मुख्यमंत्री श्री चौहान मंत्रालय में कोरोना संक्रमण की स्थिति की वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा समीक्षा कर रहे थे। मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान, अपर मुख्य सचिव गृह राजेश राजौरा और पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों तथा कोरोना मरीजों के प्रबंधन के संबंध में ग्वालियर, इंदौर, जबलपुर मेडिकल कॉलेज के डीन, इंदौर के डॉ. भंडारी, एल.एन. मेडिकल कॉलेज भोपाल और पीपुल्स मेडिकल कॉलेज भोपाल के चिकित्सकों से बात की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा विभिन्न जिलों के प्रभारी ओआईसी से वस्तु-स्थिति की जानकारी भी ली।
मास्क नहीं लगाएंगे तो पाप के भागी बनेंगे
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना के विरूद्ध इस युद्ध में जनता के सहयोग से ही जीत संभव होगी। घबराहट, डर या अविश्वास के माहौल में कमी लाना है। कोरोना संक्रमण से बचाव की सावधानियों जैसे मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग आदि का पालन समझाइश और प्रेम से कराने से ही जीत संभव होगी। कोरोना से बचाव के लिए सावधानियों का पालन कराने में जन-सामान्य का सहयोगी भाव विकसित करना होगा। लोगों में यह विचार विकसित करना होगा कि यदि हम मास्क नहीं लगाएंगे तो हम बीमारी फैलाने के पाप के भागी बनेंगे। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए “किल कोरोना-II” अभियान आरंभ किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here