निर्विवादित छवि: पदम की दोवदारी में अहम पार्टी में निभा रहे विभिन्न पदों पर भूमिका

0
36

by
satish mishra
सिवनी। आगामी कुछ दिनों मेें स्थानीय निकाय चुनावों की प्रवंचना जारी हो जायेगी। पॉच साल के भावी नगर पालिका अध्यक्ष का सपना लिए विभिन्न राजनैतिक दलों के कार्यकर्ता अपने अपने समर्थकों और स्वंय के आभामण्डल का बायोडेटा लिए अपने राजनैतिक आकाओं की वंदना में लग कर अपनी संभावित दावेदारी को पुख्ता करने में तन-मन-धन से जुट गऐ है। हालांकि पिछले 15 वर्षो याने तीन कार्यकाल से न.पा. अध्यक्ष की कुर्सी भारतीय जनता पार्टी की रहनुमाई में रही है। देखा जा रहा है कि राजनैतिक वनवास मे रही कांगे्रेस इस बार पुरानी हताथा के लबादे को एक ओर कर पूरे जोश खरोश में दिखाई दे रही है।
यूं तो अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित सिवनी न.पा. के लिए अनेक संभावित दावेदारों के नाम सामने आ रहे है। पर देखा जा रहा है कि कांग्रेस की संभावित दावेदारी में कृषि उपजमंडी सिवनी के निवर्तमान अध्यक्ष कृषक और व्यवसायी पदम सनोडिया इस बार अलग हटकर नजर आ रहे है। अपेक्षाकृत युवा पदम 44 वर्ष के है। सनोडिया सिवनी शासकीय महाविद्यालय में ग्रेजुएट है और इन्होंने रानी दुर्गावति वि.वि. जबलपुर से राजनीति में रहे पदम कांग्रेस सेवादल के ब्लाक अध्यक्ष (ग्रामीण) रहते हुये ब्लाक कांग्रेस कमेटी सिवनी के अध्यक्ष पद के दायित्वों का निर्वहन कर चुकें है। वर्तमान में पदम सनोडिया जिला महामंत्री है। पदम के तीन वर्षीय मंडी अध्यक्ष के कार्यकाल में ही सिवनी मंडी बी गे्रड से ए श्रेणी में शामिल हुई है।
यदि कांग्रेस के साथ इस बार एण्डी इन कम्बेसी फैक्टर जाता है तो पदम के रूप में एक दामदार दावेदार सामने आ सकता है। माना जा रहा है कि पार्टी के अंदरूनी खेमे में इनेक नाम पर अंतर्विरोध नही है और साथ ही भीतरघाट के खतरे भी नही के बराबर है। कांग्रेस के गुट विशेष का ठप्पा नही होने के साथ वरिष्ठ नेताओं और पार्टी के आमकर्ता के बीच भी इनकी गहरी पैठ मानी जाती है। अन्य चुनावी दृष्टिकोण के बीज गणित के लिहाज से भी पदम की दावेदारी अहम मानी जा रही है। पिछले नगर पालिका चुनाव पर नजर डाली जाऐ तो जब भा.ज.पा. की पार्वती जंघेला निर्वाचित हुई थी उस समय प्रदेश में उमा भारती की सरकार थी और इनकी प्रतिद्वदी कांग्रेस की चमेली बाई रामस्ािंह सनोडिया महज 250 वोटों के अंतर से चुनाव हारी थी। इस लिहाज से जातीय समीकरण के धुर्वीकरण की संभावना से भी इंकार नही किया जा सकता। ये सभी फैक्टर पदम सनोडिया की कांग्रेस प्रत्याशी की दावेदारी को पुख्ता कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here