युवा नेतृत्व का आदर्ष बन रहे पीयूश दुबे

0
127

बचपन से ही कुछ कर गुजरने की इच्छा रखने वाले पीयूश दुबे मिलनसार बडो का सम्मान और सेवा कार्य करने में कर्मठता इनका स्वभाव रहा है। बहुत कम समय में युवाओं के अलावा सभी के दिलों में स्थान बनाया साथ ही बहुत कम समय में पार्टी के षीर्श नेताओं के साथ उनसे मिलकर उनसे मार्गदर्षन प्राप्त किया और लगातार जिले में हो नगर में हो चाहे दूसरे जिले में कही पर भी कोई सामाजिक राजनैतिक गतिविधियों में भाग लेते हुए समय निकालकर अपने निजी कामों को भी बगैर किसी को यह व्यक्त करते हुए की थकान है , चेहरे पर मुस्कान बिखेरते हुए हर काम को कर लेना किसी ने कुछ काम बताया तो हो जायेगा और खाली कहना ही नही उसे समर्थानुसार करने का भी अदम्य साहस जो दर्षाता है कि भविश्य में इस सितारे को राजनीति के क्षेत्र में चमकते हुए आगे बहुत सा काम अभी बाकी है।़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here