श्रीनगर। मध्य कश्मीर के जिला श्रीनगर के बाहरी इलाके अबन शाह एचएमटी चौक में आतंकवादियों ने सेना की क्यूक रिएक्शन टीम (QRT) पर घात लगाकर हमला किया है। इस हमले में सेना के दो जवान शहीद हो गए। हमलावर मारूति कार में सवार थे और इनकी संख्या 3 के करीब बताई जा रही है। हमले के तुरंत बाद आतंकी वैन लेकर घटना स्थल से फरार हो गए। सुरक्षाबलों ने आतंकियों की तलाश के लिए अभियान चलाया हुआ है।
वहीं आइजीपी कश्मीर रेंज विजय कुमार ने आतंकी हमले की पुष्टि करते हुए बताया कि इस हमले को तीन आतंकवादियों ने अंजाम दिया है। यही नहीं इसके पीछे जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन का हाथ है। ये आतंकी मारूति कार में सवार थे। हमला करने के बाद फरार आतंकियों का पीछा किया जा रहा है। गाड़ी में सवार तीन आतंकवादियों में से दो के पास हथियार थे जबकि तीसरा कार चला रहा था। दो विदेशी आतंकवादी बताए जा रहे हैं। शाम तक इस संबंध में सभी जानकारी जुटा ली जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि शहीद जवान सेना की किलो बटालियन की QRT टीम के थे।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार यह हमला दोपहर बाद किया गया। सेना की QRT टीम जब अबन शाह एचएमटी चौक में पहुंची तो तभी मारूति कार अचानक से सैन्य वाहन के नजदीक खड़ी हुई और उसमें बैठे आतंकवादियों ने सैन्य वाहन पर अंधाधुंध गोलियां बरसाना शुरू कर दिया। आतंकियों द्वारा अचानक से किए गए इस हमले ने सुरक्षाबलों को संभलने तक का मौका नहीं दिया। इस गोलीबारी में सेना के दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। इससे पहले की जवान आतंकवादियों के इस हमले का जवाब देते, कार में सवार आतंकी गोलियां बरसाते हुए वहां से फरार हो गए।
वहीं दूसरे जवानों ने अपने घायल साथियों को तुरंत संभालते हुए उन्हें सैन्य अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टरों ने घायल जवानों का इलाज शुरू ही किया था कि दोनों जवान जख्मों का ताव न सह पाने के कारण शहादत पा गए। फिलहाल उनकी पहचान जाहिर नहीं हो पाई है।
वहीं मौके पर पहुंची सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस की एसओजी के दलों ने अबनशाह एचएमटी इलाके की घेराबंदी शुरू कर दी है। सभी नाकों पर सुरक्षाबलों को अलर्ट कर दिया गया है। सुरक्षाबलों का कहना है कि आतंकी अभी इलाके में ही मौजूद हो सकते हैं। घेराबंदी होने पर इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जाएगा। फिलहाल अभी किसी आतंकी मुठभेड़ की सूचना नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here