सिवनी : मोटरसायकिल चोरी के आरोपी गिरफ्तार , डूंडासिवनी पुलिस के द्वारा की कार्यवाही

0
228

सिवनी : 9 जुलाई को पुलिस अधीक्षक द्वारा वाहन चैकिंग के निर्देश दिये गये। वाहन चैकिंग के दौरान संपत्ति संबंधी अपराधियों व चोरी के वाहन की तलाश पतासाजी करने के लिए निर्देशित किया गया।
12 जुलाई को लॉकडाउन के दौरान मुखबिर की सूचना पर डूंडासिवनी पुलिस को एक व्यक्ति चोरी की मोटरसाईकिल बिक्री करने के लिए सूफी नगर तालाब के पास मोटरसाईकिल लेकर बिक्री करने की बात कर रहा था। जिसकी सूचना पर थाना प्रभारी डूंडासिवनी द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया। पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक के निर्देशन पर , अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश खरपुसे व अनुविभागीय अधिकारी पुलिस सुश्री पारूल शर्मा के निर्देशानुसार थाना डूंडासिवनी पुलिस बल की अलग-अलग टीम बनाकर मुखबिर की सूचना के अनुसार बताये हुए स्थान पर सूफी नगर तालाब की पार को पुलिस के द्वारा घेराबंदी कर तथा मुखबिर के बताये अनुसार हुलिया के व्यक्ति को रंगे हाथ मय मोटरसाईकिल को पकड़कर नाम व पता पूछने पर आरोपी ने अपना नाम साहिद अली पिता जाफर खान 22 वर्ष निवासी तालाब के पास सूफी नगर का होना बताया गया।
आरोपी के कब्जे से मोटरसाईकिल सहित अभिरक्षा में लिया गया। हिकमत अमली से पूछताछ करने पर आरोपी ने उसके साथी मोह.इमरान पिता मो.अख्तर खान 33 वर्ष निवासी अलफा मेडीकल के पास कोतवाली थाना के साथ मिलकर 6 मोटरसाईकिल चोरी करना आरोपी के द्वारा स्वीकार किया गया। आरोपी की निशादेही पर आरोपी मो.इमरान को अभिरक्षा में लेकर दोनों आरोपियों की निशादेही पर 5 मोटरसाईकिलें तथा मो. मौसीन उर्फ काले पिता मो.खान 20 वर्ष ग्राम बोरीकला को एक मोटरसाईकिल बेची गयी। आरोपी के द्वारा जप्त की हुयी मोटरसाईकिल की लगभग कीमत ढाई लाख रूपए की बरामद की गयी।
चोरी की मोटरसायकिलें-
आरोपियों ने एक मोटरसाईकिल जनता नगर स्थित जमजम लॉन के सामने से एक,वारासिवनी जिला बालाघाट से एक, केवलारी के सुनहरा गांव से एक तथा 2 मोटरसाईकिलें बारापत्थर देशी शराब दुकान के सामने से और एक मिलन लॉन कोतवाली सिवनी से चोरी करना बताया गया। पुलिस के द्वारा 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। साहिद अली पिता जाफर खान 22 वर्ष, मोह.इमरान पिता मो.अख्तर खान 33 वर्ष, मो.मौसीन उर्फ पिता काले पिता मो.खान 20 वर्ष ग्राम बोरीकला निवासी को गिरफ्तार किया। उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी डूंडासिवनी उपनिरीक्षक देवकरण डहेरिया,सउनि पी.एल.देशमुख, प्रआर योगेश राजूपत, आर जयदीप सेंगर,मुकेश गोंडाने,राकेश त्रिवेदी,शिवदीप राजपूत, विवेक बाथरे, मनोज मरावी,नीरज राजपूत और अनुराग दुबे की अहम भूमिका रही। तथा उपरोक्त टीम को पुलिस अधीक्षक के द्वारा इनाम देने की घोषणा की गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here