खन्ना: खन्ना के सिविल अस्पताल में 5 दिनों के बच्चे की अचानक मौत हो गई, जिसके बाद भड़के परिवार वालों ने अस्पताल के स्टाफ पर लापरवाही का आरोप लगाते मेन गेट बंद कर धरना लगा दिया। जानकारी देते पीड़ित व्यक्ति ने अस्पताल के डाक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते कहा कि उसने अपनी पत्नी गगनदीप कौर को खन्ना के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया था, जिसको ऑपरेशन से लड़का पैदा हुआ था।
आज सुबह पांच दिनों बाद खन्ना के सिविल अस्पताल में बच्ची की मौत हो गई, जिस कारण भड़के पारिवारिक सदस्यों ने सिविल अस्पताल के मुख्य दरवाज़े को ताला लगा दिया और धरना-प्रदर्शन किया। इस मौके पारिवारिक सदस्यों ने आरोप लगाते हुए कहा कि ड्यूटी पर उपस्थित स्टाफ नर्स ने अपने कानों में ईयरफोन लगाऐ हुए थे, जबकि उनका बच्चा बहुत गंभीर हालत में था परन्तु उनकी अस्पताल में कोई सुनवाई नहीं हुई।
इस संबंधी जब अस्पताल के सर्जन डा. मनिंदर भसीन से बात की तो उन्होंने कहा कि बच्चे की मौत मां की तरफ से दूध पिलाने के बाद दूध बच्चे के फेफड़ों में जाने के कारण हुई है। यदि फिर भी पारिवारिक सदस्यों को कुछ लापरवाही लगती है तो वह बच्चे का पोस्टमार्टम करवा जांच करवा सकते हैं।
इस मौके पर थाना सीटी के एसएचओ लाभ सिंह के साथ बात की तो उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद जो भी आरोपी पाया गया, उस पर कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here