SEONI : मक्का खरीदकर फरार हुआ व्यापारी

0
172

सिवनी : कृषि उपज मंडी सिमरिया में पंजीकृत एक व्यापारी किसानों से लाखों रुपये का अनाज खरीदकर भुगतान किए बिना लापता है। यह आरोप पीडि़त किसानों ने लगाए हैं। किसानों का कहना है कि मंडी प्रशासन ने जल्द ही व्यापारियों से बेचे गए अनाज का भुगतान नहीं कराया तो वे उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।
सिवनी कृषि उपज मण्डी में आधा सैकड़ा किसानों से 38 लाख रुपए का मक्का खरीदकर व्यापारी फरार हो गया है। चक्कर काट काटकर परेशान किसान मंगलवार की शाम कृषि उपज मण्डी सिमरिया पहुंचे ओर जमकर हंगामा किया। किसानों के हंगामा देख पुलिस और राजस्व विभाग की टीम पहुंची। किसानों की समस्या को देखते हुये नायब तहसीलदार सिवनी द्वारा व्यापारी को बुलवाया गया लेकिन व्यापारी नहीं आया बल्कि 38 लाख रुपए के एवज में अपने पिता को छह लाख रुपए लेकर भेज दिया।
किसानों का कहना है कि बोवनी का समय नजदीक है और उनके पास पैसा नहीं है। किसानो ने जिला प्रशासन से कहा है कि मण्डी प्रशासन अपने खाते से भुगतान कर दे बाद में मण्डी व्यापारी से वसूलते रहे। किसानों का कहना है कि मण्डी प्रशासन की लापरवाही से व्यापारी गायब है। किसान मक्का के पैसे के लिए मण्डी में अडे रहे। वहीं राजस्व विभाग का अमला उन्हे समझाते रहा।
किसानों ने बताया कि किसानों को खरीदे गए अनाज का भुगतान किए बिना व्यापारी ने खरीदा गया अनाज मंडी से परिवहन कर लिया। शिकायत के बाद भी मंडी प्रशासन ने व्यापारियों को मंडी से अनाज ले जाने पर रोक नहीं लगाई। इससे भी पीडि़त किसानों में आक्रोश है। किसानों ने व्यापारी पर एफआईआर की मांग की है।
इन किसानों को नहीं मिला भुगतान
उपज मंडी सिमरिया में मई माह में अलग अलग दिनों में 30 से अधिक किसानों से अनुष्का ट्रेडर्स ने 38 लाख से अधिक का अनाज खरीदा। किसान रघुराज, आशीष, विक्रम, बलराम, प्रहलाद, अमित, बैजनाथ, हरिप्रसाद, मनीष, मनीराम, आशीष, सचिन, राजेंद्र, गोपालसिंह, प्रेमलाल, गप्पू, सतीश, अरविंद, रामनरेश, चंद्रशेखर, अमन, सतीश, विकास, हरिराम, संदीप, सतीश व पेशलाल आदि किसानों से अनुष्का ट्रेडर्स ने मक्का व अन्य अनाज की खरीदी की है। इनमें से किसी किसान को ढाई लाख तो किसी किसान को 50 हजार व किसी किसान को डेढ़ लाख रुपये कुल 38 लाख से ज्यादा का भुगतान किया जाना बताया जा रहा है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here